Maa Kali Mantra । काली मंत्र । Om Jayanti Mangala Kali Mantra

Kali shabar mantra: माँ भगवती का सातवां शक्ति रूप है महाकाली। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, ‘मां काली’ मां पार्वती का उग्र रूप हैं और भगवान भोलेनाथ की पत्नी हैं। ‘काली मां’ ब्रह्मांड में सभी प्रकार की बुरी शक्तियों का नाश करती हैं।

मां काली को कालरात्रि, भद्रकाली, भैरवी, रुद्राणी, चामुंडा, चंडी, रौद्री और धुमोर्ना भी कहा जाता है। देवी भगवती का यह स्वरूप बुराई का नाश करने वाला और बुराई पर अच्छाई की जीत कराने वाला है। 

काली को दस महाविद्याओं में सबसे शक्तिशाली माना जाता है और उनकी साधना काफी लोकप्रिय है। यहां कुछ काली शाबर मंत्र, और मां काली मंत्र का वर्णन किया गया है, जिनका जाप करके साधक अपने जीवन की समस्याओं को दूर कर सकता है।

Table of Contents

Powerful Maa Kali Mantra


काली बीज मंत्र | Maa Kali Mantra

|| ॐ क्रीं काली || 

अर्थ- हे काली माँ, मेरे कष्टों का अंत करो और मुझे सुखी जीवन दो। में तुम्हें नमन करता हुँ।


काली मंत्र | Kali Mantra

|| ॐ क्रीं कालिकायै नमः || 

अर्थ – इस मंत्र के उच्चारण से चेतना शुद्ध होती है।


ॐ जयंती मंगला काली मंत्र हिंदी में | Om Jayanti Mangala Kali Mantra

|| ॐ जयन्ती मङ्गला काली भद्रकाली कपालिनी। दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु ते || 

अर्थ – जयंती, मंगला, काली, भद्रकाली, कपालिनी, दुर्गा, क्षमा, शिवा धात्री और स्वधा- इन नामों से प्रसिद्ध जगदंबे उस सभी देवी को बार-बार मै नमस्कार है करता हूँ ।


कालिका-यी मंत्र 

|| ॐ कलिं कालिका-य़ेइ नमः || 

अर्थ- जय माँ काली। कृपया हमें अधिक जागरूक एवं व्यावहारिक होने का आशीर्वाद दें। आप हमें बुद्धिमान बनायें.


महा काली मंत्र | Maha Kali Mantra

|| ॐ श्री महा कलिकायै नमः || 

अर्थ – मां काली मैं आपको शीश झुका कर प्रणाम करता हूं। आपको नमन करता हूं। मेरे सारे कष्ट खत्म करें।


एकाक्षरी काली मंत्र | Maa Kali Mantra

ॐ क्रीं

अर्थ- यह मां काली का एकाक्षर मंत्र है। देवी मां के सभी स्वरूपों की पूजा, आराधना और साधना में इसका जाप किया जा सकता है। मां काली के इस एकाक्षर मंत्र को मां चिंतामणि काली का विशेष मंत्र भी कहा जाता है।


त्रयाक्षरी काली मंत्र

ॐ क्रीं ह्रुं ह्रीं॥

अर्थ- यह त्रयाक्षरी मंत्र मां काली और उनके रौद्र रूप की आराधना का विशेष मंत्र है। तांत्रिक साधना के मंत्र से पहले और बाद में एकाक्षरी और त्रियाक्षरी मंत्रों का कैप्सूल के रूप में भी जाप किया जा सकता है।


ॐ कर्णम वंदनम काली मंत्र | Om Karnam Vandanam Kali Mantra

ॐ करणां वदनां धोरां मुक्तकेशी चतुर्भुजाम् । कालिंकां दक्षिणां दिव्यां मुण्डमाला विभूषिताम्॥ शरणागत-दीनार्त-परित्राण-परायणे, सर्वस्यार्तिहरे देवि! नारायणि! नमोस्तुते।’

अर्थ- रात में माँ का चित्र आपके सामने है, जिसमें चार भुजाएँ खुली हैं, केश चारों ओर खुले हैं और माँ के गले में एक मुंड़ माला है. हे गरीब, शरणागत, दुखियों को बचाने में तत्पर, सभी दुख दूर करनेवाली नारायणी देवी! तुम्हें नमस्कार।


पंचाक्षरी काली मंत्र

ॐ क्रीं ह्रुं ह्रीं हूँ फट्॥

अर्थ- मान्यता है कि यदि इस पंचाक्षरी मंत्र का जाप प्रतिदिन सुबह 108 बार किया जाए तो मां काली साधक के सभी दुख दूर कर देती हैं और उसके धन में वृद्धि करती हैं। पारिवारिक शांति के लिए भी इस मंत्र का जाप किया जाता है।


षडाक्षरी काली मंत्र

ॐ क्रीं कालिके स्वाहा॥

अर्थ- इस षडाक्षरी मंत्र का जप सम्मोहन जैसी लोकोक्ति सिद्धियों के लिए किया जाता है। यह मंत्र त्रिलोकों को मोहित करने वाला है।


सप्ताक्षरी काली मंत्र

ॐ हूँ ह्रीं हूँ फट् स्वाहा॥

अर्थ- यह धार्मिक मंत्र धन, काम और मोक्ष प्रदान करने वाला माना जाता है।


श्री दक्षिण काली 22 अक्षरी मंत्र

ॐ क्रीं क्रीं क्रीं हूँ हूँ ह्रीं ह्रीं दक्षिणे कालिके क्रीं क्रीं क्रीं हूँ हूँ ह्रीं ह्रीं स्वाहा॥

अर्थ- इस मंत्र का नक्षत्र है भगवान, जगत जननी, महाकाली, महामाया माँ, मेरे दुखों को दूर करो, मेरे शत्रुओं का नाश करो माँ, अज्ञान के अंधकार को ज्ञान का प्रकाश दो।


गुप्त काली मंत्र

क्लीं हूं ह्नीं गुप्तेकालिके क्लीं क्लीं हूं हूं ह्नीं ह्नीं स्वाहा ।

क्लीं हूं ह्नीं गुप्त कालिके हूं हूं ह्नीं ह्मीं स्वाहा ।

हूं ह्नीं गुप्ते कालिके क्लीं हूं हूं ह्नीं ह्नीं स्वाहा ।


भद्रकाली शाबर मंत्र । Bhadra kali shabar mantra

ॐ सिंहो दत्तो बिकोवा धडित धडधडात ध्यायमान भवानी दैत्यानाम देह-नाशनम तोड़यन्ति , सिरांसी रक्ता पिबन्ति ,
घुटत घुट -घुटात घुटेयन्ति , 
पिशाचा त्रिहाप -त्रिहाप हसंती , 
खदत-खद -खदात त्रिरोष मम भद्रकाली ९ नाथ ८४ सिद्धन के बीच में बैठ कर ,
काली भद्रकाली रूद्र काली मंत्र हुम् स्वाहा ॥


काली गायत्री मंत्र है । Kali Mantra Lyrics

|| ॐ कालिकायै च विद्महे, श्मशानवासिन्यै धीमहि, तन्नो काली प्रचोदयात् ||

अर्थ- हे महान काली देवी, भवसागर और संसार को तोड़ने वाले श्मशान में निवास करने वाली मां काली, हम अपनी शक्ति आप पर केंद्रित करते हैं, हमें आशीर्वाद दें।’


अघोर काली शाबर मंत्र

ओम गांब के पछिम पीपर के गाछ ,ताहि चढि काली करे हाँक ।
नगन में पूजै चक्र, महा-मांस भखै ।
आपन जियाबे, पराया खाय ।
एनैकर दीठ, ओने कर पीठ ।
बायें चारों काली ।
सत्य छोड असत्य भाखै, असिया कोट नरक में परइ ।सत्य प्रत्यख्य ।।


दक्षिणा काली मंत्र | Dakshina Kali Mantra

|| ॐ ह्रीं ह्रीं ह्रुं ह्रुं क्रीं क्रीं क्रीं दक्षिणकालिके क्रीं क्रीं क्रीं ह्रुं ह्रुं ह्रीं ह्रीं ||

अर्थ – धरती को पालने वाली और ब्रह्मांड को हर तरह के संकटों से बचाने वाली देवी मां को नमन।


महाकाली शाबर मंत्र बंगाल का । Maha Kali Shabar mantra

सात पुनम कालका, बारह बरस क्वांर। 
एको देवि जानिए, चौदह भुवन द्वार।।
 द्वि-पक्षे निर्मलिए, तेरह देवन देव। 
अष्टभुजी परमेश्वरी, ग्यारह रूद्र सेव।। 
सोलह कला सम्पुर्णी, तीन नयन भरपुर।
 दशों द्वारी तू ही माँ, पांचों बाजे नूर।।
 नव-निधि षट्-दर्शनी, पंद्रह तिथि जान। 
चारों युग मे काल का कर काली कल्याण।।

अर्थ – इन शाबर मंत्रों के माध्यम से व्यक्ति वास्तव में अपना और आम जनता का कल्याण और परोपकार कर सकता है। यदि किसी व्यक्ति को भूत-प्रेत, आर्थिक संकट, नजर दोष, शारीरिक एवं मानसिक तनाव आदि बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है तो शाबर मंत्रों का जाप करने वाला व्यक्ति इन बाधाओं को आसानी से दूर कर सकता है।


काली वशीकरण शाबर मंत्र 

ॐ ह्री क्लि अमुकी क्लेदय क्लेदय आकर्षय आकर्षय मथ मथ पच पच द्रावय द्रावय मम सन्निधि आनय आनय हुं हुं ऐ ऐ श्री श्री स्वाह: 


भद्रकाली मंत्र

ॐ ह्रौं काली महाकाली किलिकिले फट् स्वाहा॥

अर्थ – मां भद्रकाली के इस मंत्र का प्रयोग शत्रुओं को वश में करने के लिए किया जाता है। शत्रुओं के शीघ्र विनाश के लिए मां भद्रकाली की पूजा की जाती है। मां भद्रकाली को धर्म, कर्म और अर्थ का स्वरूप माना जाता है। साधक ने भी भद्रकाली की साधना की कामना की और उनकी आराधना की, वह पूरी हुई।


श्मशान काली  वशीकरण मंत्र | Kali Mantra In Hindi

शवारुढाम्महाभीमा घोर दृष्टम हँसमुखीम चतुर्भुजाखडक़ मुंड वराभ्यकरा शिवयम

मुंडमाला धारी देवी ललज्जितह्वादिगम्बराम सचिंय्येकत्काली  श्मशानालयवासिनीमः


श्मशान काली शाबर मंत्र

ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं कालिके क्लीं श्रीं ह्रीं ऐं॥

अर्थ – ऐसा माना जाता है कि काली शमशान श्मशान में निवास करती हैं और शव की सवारी करती हैं। तंत्र विद्या के अनुसार शमशान काली की साधना शवारूढ़ यानि शव पर धारण की जाती है। अतः यह भी एक अत्यंत जटिल एवं वैश्विक आध्यात्मिक व्यवस्था है जो सामाजिक एवं कानूनी रूप से लगभग प्रतिबंधित है। फिर भी जो लोग लकड़ी आदि की पूजा में अपने प्राण त्याग कर उसे शव में बदल देते हैं, वे तांत्रिक श्मशान में काली की भी पूजा करते हैं। शमशान काली साधना भूत-प्रेतों और राक्षसों को नियंत्रित करने के लिए की जाती है।


कालिका माता साबर मंत्र

पहला साबर मंत्र :

ॐ नमो काली कंकाली महाकाली मुख सुन्दर जिह्वा वाली,
चार वीर भैरों चौरासी, चार बत्ती पूजूं पान ए मिठाई,
अब बोलो काली की दुहाई।


दूसरा साबर मंत्र 

।।ऊँ कालिका खडग खप्पर लिए ठाड़ी 
ज्योति तेरी है निराली 
पीती भर भर रक्त की प्याली 
कर भक्तों की रखवाली 
ना करे रक्षा तो महाबली भैरव की दुहाई।।


स्वयं सिद्ध काली शाबर मंत्र | Maa Kali Mantra For Success

काली घाटे । काली माँ । पतित पावनी । काली माँ । जवा फूले । स्थुरी जले । सेई जवा फूल । में सिआ बेड़ाए । देवीर अनुर्बले । एहि होत । करिवजा होइवे । ताहा काली धर्मेर । चले काहार । आज्ञे राठे । काली का । चंडीर आसे ।

महाकाली मंत्र का जाप कैसे करें 


  • मां काली के मंत्रों का जाप करने से पहले साफ लाल रंग के कपड़े पहनें।
  • कलश को घर के उत्तर-पूर्व कोने में या किसी साफ स्थान पर स्थापित करें।
  • काली मंत्र का जाप हमेशा पूर्व या उत्तर दिशा की ओर मुख करके करें।
  • कलश स्थापित करने के बाद देवी मां को धूपबत्ती अर्पित करें।
  • मां काली को लाल फूल, फल और मिठाई अर्पित करें।
  • इसके बाद मां काली के मंत्रों का जाप शुरू करें।
  • किसी भी काले मंत्र का जाप कम से कम 40 दिन तक लगातार करना चाहिए।

काली मंत्र जाप के लाभ


  • यह मां काली के सबसे शक्तिशाली मंत्रों में से एक माना जाता है। मां काली के मंत्रों का जाप करने से जीवन में आने वाली समस्याओं का नाश होता है।
  • काली मंत्र का जाप करने से मन शांत होता है और लक्ष्यों में वृद्धि होती है।
  • काले मंत्र का जाप करने से व्यक्ति में आंतरिक जागृति आती है और जीवन में स्थिरता आती है।
  • काले मंत्र का जाप करने से परिवार में कलह खत्म हो जाती है और परिवार और प्रियजनों के बीच प्यार बढ़ता है।
  • काली मंत्र का नियमित जाप करने से सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं।
  • काली मंत्र का जाप करने से रोग, कर्ज, दुर्घटना आदि परेशानियां दूर रहती हैं।
  • काली मंत्र का नियमित जाप करने से प्राकृतिक सकारात्मक ऊर्जा का अनुभव होता है।
  • काले मंत्र का जाप करने से विवाह में आ रही परेशानियां दूर हो जाती हैं।

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि divineshlok.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें. 


FAQ

1. काली शाबर मंत्र क्या है?

काली शाबर मंत्र, देवी काली की आराधना का एक शक्तिशाली मंत्र है। यह मंत्र शाबर समुदाय से उत्पन्न हुआ माना जाता है, जो भारत के आदिवासी समुदायों में से एक है। इस मंत्र का उपयोग विभिन्न प्रकार के उद्देश्यों के लिए किया जाता है, जैसे कि सुरक्षा प्राप्त करना, शत्रुओं पर विजय प्राप्त करना, और भय और नकारात्मकता को दूर करना।

2. काली शाबर मंत्र का जाप कैसे करें?

काली शाबर मंत्र का जाप करने के लिए, आपको एक शांत और पवित्र स्थान चुनना चाहिए। स्नान करके स्वच्छ वस्त्र पहनें और देवी काली की प्रतिमा या तस्वीर के सामने बैठ जाएं। मंत्र का जाप 108 बार या 11 बार जपमाला का उपयोग करके करें। ध्यान केंद्रित करें और मंत्र के शब्दों का अर्थ समझने का प्रयास करें।

3. काली शाबर मंत्र के क्या लाभ हैं?

काली शाबर मंत्र के कई लाभ माने जाते हैं, जिनमें शामिल हैं:
सुरक्षा: यह मंत्र आपको भय, नकारात्मकता, और शत्रुओं से बचाने में मदद करता है।
शक्ति: यह मंत्र आपको आत्मविश्वास और शक्ति प्रदान करता है।
समृद्धि: यह मंत्र आपको धन, समृद्धि और सफलता प्राप्त करने में मदद करता है।
स्वास्थ्य: यह मंत्र आपको अच्छा स्वास्थ्य और रोगों से मुक्ति प्रदान करता है।
मोक्ष: यह मंत्र आपको मोक्ष प्राप्त करने में मदद करता है।

4. क्या काली शाबर मंत्र का जाप करना सुरक्षित है?

काली शाबर मंत्र का जाप करना आम तौर पर सुरक्षित माना जाता है। लेकिन, यदि आप किसी भी प्रकार की मानसिक या शारीरिक समस्या से जूझ रहे हैं, तो मंत्र का जाप करने से पहले किसी गुरु या योग्य व्यक्ति से सलाह लेना उचित है।

5. काली शाबर मंत्र के कुछ प्रसिद्ध रूप कौन से हैं?

काली शाबर मंत्र के कई प्रसिद्ध रूप हैं, जिनमें शामिल हैं:
ॐ जय काली कालिका परमेश्वरी स्वाहा
ॐ क्रीं ह्रीं ह्रीं हूँ फट्
मां काली श्यामा सिद्धि मंत्र
काली शत्रु संहार मंत्र

6. क्या मुझे काली शाबर मंत्र का जाप करने के लिए दीक्षा लेनी होगी?

काली शाबर मंत्र का जाप करने के लिए आपको दीक्षा लेने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन, यदि आप मंत्र का अधिकतम लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, तो किसी गुरु से दीक्षा लेना उचित है।

7. काली शाबर मंत्र का जाप करने का सबसे अच्छा समय कौन सा है?

काली शाबर मंत्र का जाप करने का सबसे अच्छा समय सूर्योदय से पहले या सूर्यास्त के बाद होता है। आप इसे मध्यरात्रि में भी कर सकते हैं।

8. क्या मैं काली शाबर मंत्र का जाप घर पर कर सकता हूं?

हाँ, आप काली शाबर मंत्र का जाप घर पर कर सकते हैं। बस यह सुनिश्चित करें कि आप एक शांत और पवित्र स्थान पर हों।

9. क्या मुझे काली शाबर मंत्र का जाप करते समय कोई विशेष मंत्रमुद्रा का उपयोग करना चाहिए?

काली शाबर मंत्र का जाप करते समय आप किसी भी आरामदायक मुद्रा में बैठ सकते हैं। लेकिन, यदि आप अधिक शक्ति और एकाग्रता प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप पद्मासन या सिद्धासन जैसी मुद्रा का उपयोग कर सकते हैं।

10. काली शाबर मंत्र का जाप करने के बाद मुझे क्या करना चाहिए?

काली शाबर मंत्र का जाप करने के बाद, कुछ देर के लिए शांत बैठें और मंत्र के प्रभावों को महसूस करें। आप देवी काली का ध्यान भी सकते हैं और उनसे अपने मनोवांछित फल की प्राप्ति के लिए प्रार्थना कर सकते हैं।